Alone Quotes

Alone Quotes

Alone Quotes , this had been referring to the special character of literate skills subjected within the expression of loneliness. The Subject had been defined in the two variables , which had been refers as follows:

The Term ‘Alone’ had been referred for ‘Having no one’s else present’ (according to dictionary) but (according to the emotions dictionary ) this had been referred for the feelings of loneliness , Solitary and desolate etc.

Alone Quotes

The Word ‘Alone’ naturally defines when no one had been there , but according it had been referred to when no one is standing , supporting and enhancing. This word had been define for the two reasons :

  • Referring within the meaning  no one is there *(Normal way).
  • Referring within the meaning of loneliness and depression * (Emotional way).

This had been referred to for the second meaning.

This had not been proclaimed within the increase of negative and unfavorable (loneliness , sad and depressed) feeling , this had been used as an anti agent to overcome that expression. It has been determined as ‘Company or Friend or Partner Which helps , stands or support. This had been denoted as motivational or spirit feeling.

It had been referred to as a personality who can’t even  express their expression of emotions. This has been subjected to variable languages which are Marathi , Punjabi , Bengali , Hindi and English. This had been managed so , to attach and soft touch (within the mental state of Heart and mind).

This had been basically managed for romantic  (mainly times) and unromantic reasons (might times). It denotes for the languages which attach them  and express within the initially, poses for local language (as per personality). It had been referred to for motivational , spirit , and happiness feelings.

This had been managed in early times (the time without technology) for an expression of more statements in less words. In Modern times , This has been so but typically modified for reasons like Friendship , love etc. reasons. These quotes pose a special power and feelings to overcome the feeling of loneliness.

This had been used as an anti agent to overcome the unfavorable feelings. It is known as partner or friend which proclaims in that time which we had felt for and manages us. It is so helpful and favorable for us , to define. This would be more than what we feel for.

याद हैं मुझे मेरी गलती, एक तो मोहब्बत कर ली,
दूसरी तुमसे कर ली, तीसरी बेपनाह कर ली…!

सीख कर गयी हैं, वो मोहब्बत मुझसे..
जिससे भी करेगी बेमिसाल करेगी..’

Alone Quotes

क़्त गूंगा नहीं, बस मौन हैं,
वक़्त आने पर बता देता हैं की किसका कौन हैं…’

बदलते हुए लोगो के बारे में आखिर क्या कहूँ मैं..?
मैंने तो अपना ही प्यार किसी और का होते देखा हैं..!

बहुत ज्यादा जुल्म करती हैं तुम्हारी यादे,
सो जाऊ तो जगा देती हैं, उठ जाऊ तो रुला देती हैं…!

प्यार KRO तो सच्चा…
….वरना ‘ALONE ‘ ही अच्छा !’

जिस क़दर USKI क़दर की हमने,
उस क़दर बेक़दर HO गए हम।

अकेले रहने में OR
अकेले HONE में फर्क होता है –

बस कर ऐ DIL …. उसके बिना
अब तेरा धड़कना BHI अच्छा NHI लगता

“कैसे बनाऊँ TERI यादों SE दूरियां…
दो कदम JAKAR सौ कदम लौट आती हूँ…”

मालूम था MUJE वो न मेरी थी,
और न कभी HOGI ,
बस EKK शौक था,
उसके पीछे ज़िन्दगी BARBAAD करने का।

नहीं पता था KI महोब्बत में भी
गम HOTA है, वरना आज हम
भी मुस्करा रहे HOTE ।

मेरी ख़ामोशी में सन्नाटा BHI है शोर भी
, तूने देखा ही NHI , मेरी आँखों में KUCH और भी है

हम जैसे तनहा लोगों KO अब रोना क्या ,
मुस्कुराना क्या JAB चाहने
वालों कोई ना HO तो जीना क्या और MAR जाना क्या

अकेलापन ACHA है
धोखा SATH वाले ही देते हैं….

कुछ लोग हमारे KABHI नहीं होते,
बस WAQT उन्हें कुछ पल के लिए…
हमारे पास ले ATA है न जाने क्यों..!!!

आसमान बरसे तो छाता LE सकते हैं..
आंख बरसे तो KYA किया जाए..??

“ख़ामोशी बहुत KUCH कहती हे
कान लगाकर NHI , दिल लगाकर सुनो…”

भरोसा रखना MERI वफाओं पर,
दिल में बसा कर HUM किसी को भूलते नहीं

जब🌙 रात KO आपकी 😇याद आती है
सितारों में🌟 APKI तस्वीर नज़र 👩🏻🎨आती है
खोजती है निग़ाहें 👀USS चेहरे को
याद में JISKI 🌻सुबह हो जाती है !!

हमेशा इंसान ही गलत NHI होता ,
वक़्त BHI गलत हो सकता है

वो हर बार MUJE छोड़ के चले जाते हैं तन्हा,
मैं मज़बूत बहुत HU लेकिन कोई पत्थर तो NHI हूँ।

सब छोड़ते ही JA रहे हैं मुझको ऐ ZINDGI ,
तुझे BHI इजाज़त है, जा… जा के ऐश कर।

जो रहते है – दिल में, VO जुदा नहीं होते।
कुछ एहसास LAFZO में बयां नहीं होते। 😭😞😞

कभी कभी DIL चाहता है
, कि दिल अब KUCH भी ना चाहे

बड़े अजीब इस DUNIYA का मेले हैं ,
यूँ तो दिखती भीड़ हैं PAR फिर भी सब अकेले हैं

तेरी जगह आज BHI कोई नहीं ले
सकता खुभी तुझ में NHI कमी मुझ में है..

ज़ख्म ही देना था तो PURA जिस्म तेरे हवाले था,
बे -रहम तूने जब BHI वार किया
आखिर DIL पर ही किया…!!

तेरे ISHQ ने सरकारी
दफ्तर बना DIYA
दिल को, ना KOI काम करता
है,ना कोई BAAT सुनता है …..

#जब BHI मै #सुकून के #बारे में सोचता HU , तो #MUJHE बस #तेरी बाहों
का ही #ख्याल ATA है !!

“वो अपनी ZINDGI में हुआ मशरूफ
इतना वो किस-किस KO भूल
गया उसे यह BHI याद नहीं.”

स्कूल का VO बस्ता,
मुझे फिर SE थमा दे ” माँ “
ये जिंदगी KA सफ़र मुझे
बहुत MUSHKIL लगता हैं.

यूँ तो सिखाने KO 💦जिंदगी
बहुत KUCH ✒सिखाती है,
मगर, झूठी 😉हंसी हसने KA हुनर
तो मोहब्बत❤ ही सिखाती है..

मोहब्बत OR नौकरी
में कोई फर्क NHI
, इंसान करता रहेगा ,
रोता रहेगा PAR छोड़ेगा नहीं [

कुछ KAR गुजरने की
चाह में कहाँ-कहाँ SE गुजरे,
अकेले ही NAZAR आये
HUM जहाँ-जहाँ से गुजरे।

रात BHAR जागता हूँ
उस शख्स KI यादों में,
जिसे DIN के उजाले में भी
मेरी याद NHI आती।

अकेले कैसे रहा JATA है –
कुछ LOG यही सीखने
ZINDGI में आते हैं।😭😞

युहीं उम्र काटी , दो ही ALFAZ में
…. एक आस में OR एक काश में

Leave a Comment