Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi, Dhanteras Pooja Kaise Kare

Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi, Dhanteras Pooja Kaise Kare
By Yogita Vaishnav | September 13, 2020
0 Comment
Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi
Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi:-

दिवाली से दो दिन पहले धनतेरस का त्यौहार मनाया जाता है| यह कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाया जाता है| कार्तिक मास में पांच दिन पर्व मनाया जाता है| तथा पांच दिन के पर्व की शुरुआत धनतेरस से होती है| धनतेरस के दिन यदि कुछ बातो को ध्यान में रखकर पूजा की जाए तो आर्थिक संकट को दूर करते हुए सुख समृद्धि को प्राप्त किया जा सकता है| धनतेरस के दिन धन्वन्तरी की पूजा की जाती है| धनवंतरी को औषधि विज्ञान का जनक माना जाता है| ऐसा माना जाता है कि समुन्द्र मंथन के दौरान भगवान् धन्वन्तरी हाथ में अमृत का कलश लेकर प्रकट हुए थे| इसलिए इस दिन सुख- समृधि, धन- संपदा के साथ स्वास्थ्य सम्बन्धी विकार भी दूर होते है| Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi for you.

धनतेरस शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है| १ . धन २ . तेरस. जिसमे धन का अर्थ धन संपदा से लिया जाता है| तथा तेरस का तात्पर्य कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी से लिया जाता है| धनतेरस का अर्थ, धन के १३ गुना वृद्धि करने से है|

Dhanteras Puja Kaise Kare In Hindi
Dhanteras Pooja Kaise Kare:-

  • धनतेरस के कुछ दिन पहले अपने घर, कार्यालय, दूकान की अच्छी तरह सफाई कर ले| इस दिन बाजारों में धन की वर्षा होती है| इस दिन जौहरी व्यापारी बहुत मुनाफा कमाते है| धनतेरस के दिन लोग सोने चांदी से बनी चीजे, इलेक्ट्रॉनिक आइटम, तथा बर्तन खरीदते है| और इसे बहुत शुभ माना जाता है|
  • धनतेरस के दिन अपने घर को रंग बिरंगी लाइट, फुलो तथा दियो से अपने घर को सजाये| इस दिन घर का मुख्य दरवाजा खुला रखा जाता है| ऐसा माना जाता है कि माँ लक्ष्मी के आगमन के लिए मुख्य द्वार खुला रखा जाता है|
  • इस दिन घर के आँगन में रंगोली सजाई जाती है| तथा मुख्य द्वार पर माँ लक्ष्मी के पगलिये बनाये जाते है| ये पगलिये माँ लक्ष्मी के प्रवेश के प्रतीक होते होते है| पहले के समय में महिलाए विभिन्न प्रकार के कलर से पगलिये बनाती थी| लेकिन आजकल बाजार में रेडीमेड पगलिये मिलते है|
  • धनतेरस की पूजा करने से पहले अच्छा मुहूर्त देख ले| अच्छे मुहूर्त के हिसाब से पूजा करना उतम माना जाता है|
  • इस दिन धन्वन्तरी की पूजा की जाती है| वो कहते हें ना कि पहला सुख निरोगी काया| इसलिए दिवाली से दो दिन पहले धनतेरस के दिन धन्वन्तरी की पूजा की जाती है| भगवान् धन्वन्तरी को औषधि विज्ञान का जनक माना जाता है|
dhanteras photos
dhanteras photos
  • इस दिन धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है| कुबेर की पूजा करने से घर में धन संपदा बढती है| तथा विकास के नये अवसर मिलते है|
  • इस दिन मृत्यु के देवता यमराज की पूजा भी की जाती है| यमराज की पूजा के पीछे भी एक पौराणिक कथा जुडी हुयी है| इस दिन एक पतिव्रता स्त्री ने अपने पति को अपनी बुद्धिमता से मौत से बचा लिया| इसलिए इस दिन यम की पूजा करने से स्वास्थ्य सम्बन्धी विकार दूर होते है|
  • पूजा करते समय मंत्र का जाप करे| ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रीं महालक्ष्मी धनदा लक्ष्मी कुबेराय मम गृह स्थिरो ह्रीं ॐ नमः| इससे आपको उन्नति के नये मार्ग मिलेंगे| तथा नये अवसरों की प्राप्ति होगी|

Leave a Comment